David Warner Retirement : विवादों से विरासत तक कैसा रहा डेविड वॉर्नर के क्रिकेट का सफर

1 min read

David Warner Retirement : यह नवंबर 2021 की बात है। टी20 वर्ल्ड कप जीतने के बाद ऑस्ट्रेलिया के डेविड वार्नर ने रात 1 बजे एक इंटरव्यू के लिए जवाब दिया। उस समय वे जश्न में डूबे हुए थे और फोन नहीं देख पाए थे। लेकिन जैसे ही वे ऑनलाइन आए और इंटरव्यू की रिक्वेस्ट देखी, उन्होंने तुरंत कॉल किया। 

David Warner Retirement controversy and legacy : David Warner Retirement : विवादों से विरासत तक कैसा रहा डेविड वॉर्नर के क्रिकेट का सफर

“मैं बहुत खुश हूँ, दोस्त,” उन्होंने कहा, अपनी भावनाओं को नियंत्रित करने की कोशिश करते हुए। “आपको बता नहीं सकता कि मैं कितना खुश और राहत महसूस कर रहा हूँ।”

ऑस्ट्रेलिया की टीम सुबह जल्दी ही चार्टर फ्लाइट से लौटने वाली थी, इसलिए वार्नर ने उसी समय इंटरव्यू करना चाहा। उन्होंने कहा, 

“यह मेरे जीवन के सबसे खुशी के पलों में से एक है। मैंने टूर्नामेंट से पहले आपसे बात की थी और कहा था कि हम तैयार हैं। हमारी टीम बहुत अच्छी थी और हर सदस्य ने अपनी भूमिका निभाई।”

लेकिन मंगलवार, 25 जून को स्थिति अलग थी। ऑस्ट्रेलिया टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो चुकी थी। वार्नर का प्रदर्शन उल्लेखनीय नहीं था। लेकिन खेल यही है, और यह बात डेविड वार्नर से बेहतर कोई नहीं जानता।

खेल के महत्व पर David Warner का बयान

वार्नर ने कहा था, 

“हम मनोरंजन के लिए खेलते हैं। हम उत्कृष्टता के लिए खेलते हैं। चाहे हम जीतें या हारें, मैंने हमेशा कड़ी मेहनत की है और कड़ी ट्रेनिंग की है। एक भी दिन नहीं छोड़ा। खेल एक महान संतुलनकर्ता है, और अगर आप खेल के प्रति सच्चे रहते हैं और मेहनत करते हैं, तो आपको हमेशा एक मौका मिलता है।”

यादगार करियर

अब जब वे अपने करियर को पीछे मुड़कर देखेंगे, तो वे संतोष के साथ देख सकते हैं कि उन्होंने एक शानदार पारी खेली है। यह यात्रा आसान नहीं थी, लेकिन वार्नर ने हर चुनौती का डटकर सामना किया और अपनी एक अलग पहचान बनाई।

2013 में बर्मिंघम के एक पब में जो रूट के साथ झगड़ा करने के बाद वार्नर की छवि खराब हो गई थी। कुछ लोगों ने कहा कि उनका करियर खत्म हो गया है, लेकिन उनके अंदर एक दृढ़ विश्वास था कि वे वापसी करेंगे और उन्होंने ये कर के दिखाया भी।

वार्नर का करियर हमेशा आलोचनाओं और विवादों के बीच रहा है। लेकिन उन्होंने इन आलोचनाओं को अपनी ताकत बनाया। उनके करियर के सबसे कठिन समय ने उन्हें सबसे ज्यादा प्रेरित किया। हर बार जब लोग उन्हें संदेह की नजर से देखते थे, तब वे और भी मेहनत करते थे और बेहतरीन प्रदर्शन करते थे।

वार्नर ने अपने करियर में असाधारण प्रतिभा का प्रदर्शन किया। उन्होंने क्रिकेट के हर फॉर्मेट में अपनी जगह बनाई। आलोचनाओं का सामना करते हुए, उन्होंने हमेशा उत्कृष्टता की तलाश की और अपने खेल को बेहतर बनाने का प्रयास किया। उनका करियर अद्वितीय है और वह एक महान खिलाड़ी के रूप में याद किए जाएंगे।

फाइनल टीम के लिए – 👉
फाइनल टीम के लिए – 👉

निष्कर्ष

आशा करते हैं की आपको हमारा पोस्ट अच्छा लगा होगा , तो प्लीज इस पोस्ट को अपने दोस्तों को शेयर करें. 👇

cricketalk.co.in

Contact

भारत

cricketalk247@gmail.com